भारत की सबसे गहरी झील कौनसी है bharat ki sabse gahri jheel

भारत की सबसे गहरी झील कौनसी है – प्रकृति के चमत्कार कई और अवर्णनीय हैं! इस तरह के चमत्कारों के बीच, मानसबल झील कश्मीर में विदेशी झीलों में से एक के रूप में चमकती है। वुलर झील के रास्ते में यह श्रीनगर से सिर्फ 30 किमी दूर है।

bharat ki sabse gahri jheel
भारत की सबसे गहरी झील कौनसी है

मानसबल के झिलमिलाते पानी में खिलने वाले खूबसूरत कमल के फूल न केवल इसे दर्शनीय बनाते हैं, बल्कि लोगों के लिए एक आजीविका भी प्रदान करते हैं।

मानसबल झील के बारे में रोचक तथ्य

मानसबल नाम तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र में पवित्र मानसरोवर झील से लिया गया है।

मानसबल झील विशाल और मनोरम है; इसकी सुंदरता ने कई राजधानियों को झील के बिस्तर की ओर आकर्षित किया है। इसलिए, इसे ‘सभी कश्मीर झीलों का सर्वोच्च रत्न’ के रूप में नाम मिला है।

bharat ki sabse gahri jheel kon si hai

मानसबल को भारत की सबसे गहरी झील भी माना जाता है।

मानसबल झील का इतिहास

सुंदर प्रकृति जो झील को बांधती है अतीत के दौरान एक आकर्षण रहा है। मानसबल के तट पर एक 17 वीं शताब्दी के मुगल किले और झरोका (मुगल गार्डन) के खंडहर अतीत में इसकी लोकप्रियता के लिए उदाहरण हैं।

ऐतिहासिक अभिलेखों के अनुसार, मुग़ल काल में पंजाब से श्रीनगर की यात्रा करने वालों के लिए झारोगबाग किला एक अतिथिगृह के रूप में कार्य करता था।

इस झील की एक खासियत यह है कि झील में बहने वाली कोई खास धारा नहीं है। यह मुख्य रूप से बारिश, आसपास की पहाड़ियों और कुछ जमे हुए नदियों में एकत्रित पानी पर निर्भर है। मानसबल झील जम्मू और कश्मीर में झेलम नदी के दौरान ऊँचाई पर स्थित झीलों में से एक है।

मानसबल झील के आसपास के पर्यटन स्थल

मानसबल झील एक दृश्य उपचार से कम नहीं है। यह पक्षियों का स्वर्ग भी है क्योंकि यह कई पक्षियों का घर है।

मुगल गार्डन और झारोगबाग किले के अलावा, इस झील के किनारे कई बाग हैं। सेब के बाग, शहतूत के बाग, चिनार के पेड़ों के झुरमुट और जलग्रहण क्षेत्रों में स्थित कृषि मैदान इसकी सुंदरता में चार चांद लगाते हैं।

वुलर झील, एशिया की सबसे बड़ी ताजे पानी की झीलों में से एक, मानसबल झील के पास है।
यात्री जारकोबल और कोंडबल के आसपास के गांवों का भी पता लगा सकते हैं।
दिलचस्प है, झील के पूर्वी किनारे पर एक प्राचीन मंदिर की खुदाई की गई थी। यह स्थानीय ग्रे पत्थर से निर्मित है और 800-900 ईस्वी पूर्व का है। अब इसे मानसबल मंदिर के नाम से जाना जाता है।

हाल के वर्षों में, मानसबल झील में वाटर स्कीइंग एक लोकप्रिय खेल बन गया है। यह कई साहसिक प्रेमियों को मनसबल झील की ओर आकर्षित कर रहा है।

कैसे पहुंचे मानसबल झील

  • मानसबल झील गांदरबल जिले के सफापोरा में स्थित है। यह श्रीनगर से लगभग 30 किमी दूर है और सड़क मार्ग से पहुँचा जा सकता है।
  • इस गंतव्य तक पहुंचने के लिए टैक्सी या टैक्सी किराए पर लेना बेहतर है।
  • मानसबल झील घूमने का सबसे अच्छा समय

जब झील कमल के फूलों से भरी होती है और जब आप जलीय पक्षियों को देख सकते हैं, तो घूमना अच्छा होता है। मानसबल झील की यात्रा के लिए जून से अगस्त तक का समय सबसे अच्छा है।

हालांकि, कृपया ध्यान रखें कि झील को प्रदूषण से बचाना हमारे हाथ में है। कश्मीर के लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक पर शांत प्रकृति का आनंद लें।

bharat ki sabse gahri jheel kon si hai bharat ki sabse gahri jheel kon si hai

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *